Friday, 17 November 2017

देहरादून मेयर विधायक और मेयर दो-दो पदों के ले रहे मजे, लोग मर रहे डेंगू से : आज़ाद अली


देहरादून। राजधानी दून की सफाई व्यवस्था पर अपनी चिंता व्यक्त करते हुए उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश सचिव आज़ाद अली ने कहा कि देहरादून के मेयर विनोद चमोली को नगर की कोई चिंता नहीं है। उनकी लापरवाही का खामियाजा दून की मासूम जनता को भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा के मेयर विनोद चमोली अपनी पार्टी के ही सिद्धांतों पर चल रहे हैं।
आजाद अली ने मेयर के बहाने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा ने पूरे देश को गंदा किया है, फिर भला ऐसे में मेयर क्यों पीछे रहें मीडिया। को जारी अपने बयान में आजाद अली ने कहा कि सफाई व्यवस्था के नाम पर मेयर हमेशा फिसड्डी साबित हुए हैं।देहरादून के मेयर विनोद चमोली अक्सर सीएम व डीएम पर रौब ग़ालिब करते टीवी चैनलों पर दिखाई पड़ते हैं। फिर भला दून की सफाई का नाम आने पर वह भीगी बिल्ली क्यों बन जाते हैं।
आजाद अली ने निगम की कूड़ा उठाने की व्यवस्था पर भी सवालिया निशान खड़ा करते हुए कहा कि नगर में कूड़ा उठाने की व्यवस्था सुचारु रुप से नहीं की जा रही है। जिस वजह से नगर वासियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि यदि अति शीघ्र कूड़ा उठान व्यवस्था सुचारू नहीं की गई तो वह नगर निगम में मेयर के विरूद्ध बैठकर धरना देंगे।
उन्होंने कहा कि केंद्र में और राज्य में भाजपा की सरकार है। मेयर भी भाजपा के, विधायक भी भाजपा के हैं और अधिकारी भी उन्हीं के नियंत्रण में हैं। फिर ऐसे में राजधानी देहरादून की सफाई व्यवस्था को लेकर शासन और प्रशासन निरंकुश कैसे हो सकता है। इतना कुछ होने के बावजूद भी मेयर अपने पद से इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे हैं।
आज़ाद अली ने सवाल उठाया कि मौजूदा समय में विनोद चमोली धर्मपुर क्षेत्र के विधायक होने के साथ ही मेयर पद का भी लाभ ले रहे हैं। ऐसे में फेल साबित होने पर उन्हें मेयर पद से तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। आजाद अली ने कहा कि ट्रंचिंग ग्राउंड के मामले में भी चमोली पूरी तरह से नाकाम साबित हुए हैं। यदि ट्रंचिंग ग्राउंड को आबादी क्षेत्र में ही बसाना था तो फिर सहस्त्रधारा रोड से हटाकर शीशमबाड़ा ले जाने की क्या जरूरत थी।
उन्होंने आरोप लगाया कि ट्रेचिंग ग्राउंड का खेल मेयर सिर्फ बिल्डर माफियाओं के इशारों पर कर रहे हैं। वहीं दूसरी और सफाई व्यवस्था को चाक-चौबंद ना करने की वजह से देहरादून में डेंगू का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है जबकि मानसून को बीते काफी समय हो चुका है और सर्दियां दस्तक दे चुकी हैं किंतु गंदगी की वजह से अभी भी डेंगू मच्छर पनप रहा है और लोग बीमार पड़ रहे हैं।
उन्होंने कहा कि नगर निगम के मुख्य पद पर आसीन मेयर को शर्म आनी चाहिए जिनकी वजह से दून की जनता को ऐसी मुश्किलों से दो-चार होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि यदि समय रहते नगर निगम के मेयर विनोद चमोली द्वारा व्यवस्थाओं को सुचारू नहीं किया गया तो जल्दी उन्हें जनता के आक्रोश का खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

No comments:

Post a Comment

देवभूमि की बेटियों को सलाम, यूथ ओलंपिक में अंकिता के बाद देवांशी ने जीता गोल्ड मेडल

उत्तराखंड के लिए बेहतरीन खबर है। यूथ ओलंपिक में अंकिता के बाद देवांशी ने भी गोल्ड मेडल हासिल किया है।   By:Jasveer Manwal  14 JAN ...